Benefits of Aloe Vera | एलोवेरा के फायदे तथा उपयोग

Benefits of Aloe Vera - एलोवेरा के फायदे तथा उपयोग हिंदी में

Benefits of Aloe Vera - एलोवेरा के फायदे तथा उपयोग
Benefits of Aloe Vera - एलोवेरा के फायदे तथा उपयोग

Benefits of Aloe Vera: एलोवेरा के फायदे के बारे में तो हम सभी जानते हैं। एलोवेरा से आपकी त्वचा(Aloe Vera for skin) बालों (Hair), तथा पेट और पूरी सेहत को कई तरीकों से फायदा पहुंचाता है। इसको चेहरे पर लगाने लेकर के एलोवेरा जूस(Aloe Vera Juice) का सेवन करने तक, यह खूब लाभ देता है। एलोवेरा जूस और एलोवेरा जेल को अलग-अलग तरीकों से उपयोग में लाया जाता है। एलोवेरा की पत्ती(Aloe Vera Leaf) की एक परत के अंदर एलोवेरा जूस (Aloe Vera Juice) निकलता है। एलोवेरा को आयुर्वेद में(Aloe Vera Lives in Ayurveda )एक  संजीवनी औषधि माना जाता है।

एलोवेरा के अंदर अमीनो एसिड पाया जाता है और विटामिन 12 की मात्रा अच्छी खासी पाई जाती है जो शरीर को रोगों से लड़ने में मदद करती है और  शरीर की रोग प्रतिरोधक(immunity)क्षमता को बढ़ाती है। एलोवेरा स्किन की देखभाल के साथ-साथ बालों तथा घाव को भरने से लेकर के कैंसर जैसे रोगों से निजात पाने में काफी राहत देता है। और जितने फायदे मंद घरेलू नुस्खे(home remedies) होते हैं उससे अच्छा कुछ और नहीं होता। घरेलू नुस्खे कई बार आपको ऐसा फायदा देते हैं की अगर कोई बीमारी होती है तो उसको जड़ से खत्म कर देते हैं और वह भी बिना कोई नुकसान पहुंचाए। ऐसे ही कई फायदे देता है एलोवेरा। आप लोगों ने भी एलोवेरा के फायदे के बारे में खूब सुना होगा (Aloe Vera Benefits)इस को चेहरे पर लगाने से लेकर के एलोवेरा के जूस तक और ऐसे ही कई फायदे आप उठा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें - सदाबहार के फायदे (sadabahar ke fayde)

एलोवेरा का परिचय - Aloe Vera information


एलोवेरा औषधीय पौधा है जिसके अनगिनत फायदे हैं। कुछ फायदों के बारे में आप जानते होंगे, लेकिन उन फायदों के बारे में बहुत कम लोग जानते होंगे, जिनके बारे में आज हम आपको अवगत कराएंगे। आयुर्वेद के कई चिकित्सक एलोवेरा को संजीवनी पोधा भी कहा जाता है। आपको जानकर आश्चर्य होगा लेकिन दुनिया भर में इसकी 400 से अधिक प्रजातियां पाई जाती हैं। हालांकि, इनमें से केवल 4 प्रजातियां हमें स्वास्थ्य लाभ देने में प्रभावी हैं। आइए, जानते हैं एलो वेरा के कई खास फायदों के बारे में ...

एलोवेरा के विशेष लाभ -Benefis of Aloe Vera

एलोवेरा के विशेष लाभ -Benefis of Aloe Vera

इसका उपयोग पौष्टिक आहार के रूप में भी किया जाता है। एलोवेरा जिसमें विभिन्न खनिज होते हैं, विटामिन थोड़ी गर्मी के साथ अपना प्रभाव देता है।
  • इसका एक छोटा कप सुबह लेने से दिनभर शरीर में ताकत और फुर्ती बनी रहती है।

  • यह बवासीर जैसी दर्दनाक बीमारियों में राहत देता है।

  • मधुमेह के रोगियों के लिए फायदेमंद है। 

  • यहगर्भाशय के विभिन्न रोगों में चमत्कारी है।

  • पेट से संबंधित समस्याओं का रामबाण इलाज है।

  • जोड़ों के दर्द में बहुत राहत देता है।

  •  यह त्वचा की सभी समस्याओं जैसे पिंपल्स, ड्राई स्किन, Sunburn वाली त्वचा, झुर्रियां, चेहरे के धब्बे, डार्क सर्कल, फटी एड़ियों के लिए फायदेमंद है।

  • यह रक्त की कमी को दूर करता है और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।

  • जलने, कटने, चोट लगने पर, एलोवेरा अपने एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुणों के कारण घाव को जल्दी भर देता है।

इसे भी पढ़ें - Benefits of Ashwgandha |अश्वगंधा के फायदे और नुकसान |अश्वगंधा के उपयोग हिंदी में

  • यह शरीर में शुगर की मात्रा को नियंत्रित करता है।

  • यह त्वचा को मच्छरों से भी बचाता है, क्योंकि इसमें प्राकृतिक रूप से मच्छर निरोधक गुण होते हैं।

  • एलोवेरा का उपयोग जैल, बॉडी लोशन, हेयर जैल, स्किन जैल, शैंपू, साबुन, फेशियल फोम, ब्यूटी क्रीम, हेयर स्पा आदि के निर्माण में भी किया जाता है।

  • बालों में मेहंदी के साथ एलोवेरा जेल या रस लगाने से बाल चमकदार और स्वस्थ हो जाएंगे।

  • एलोवेरा के रस में थोड़ा सा नारियल का तेल मिलाकर थोड़ी देर तक कोहनी, घुटनों और एड़ियों पर लगाने से इन जगहों पर का कालापन दूर हो जाता है।

  • इसकी पत्तियों को लेने से पेट में कब्ज की समस्या से राहत मिलती है।

  • एलोवेरा के रस को गुलाब जल में मिलाकर त्वचा पर लगाने से त्वचा की खोई नमी वापस आ जाती है।

  • मुल्तानी मिटटी या चंदन पाउडर को एलोवेरा के गूदे में मिलाकर लगाने से त्वचा के दाने और फुंसियां ​​गायब हो जाती हैं।

  • चूंकि यह पौधा कम पानी और कम उर्वरक मिट्टी में आसानी से विकसित हो सकता है, आप इसे आसानी से अपने घर में छोटे-छोटे गमलों में लगा सकते हैं।
इसे भी पढ़ें - Benefits of neem | नीम के फायदे 
  • यह जले हुए घावों पर मरहम की तरह काम करता है और उनके निशान पर को मिटाने के लिए अच्छी तरह से काम करता है।

  • इसके अलावा एलोवेरा रक्त शोधन, पाचन के लिए भी बहुत प्रभावी और सहायक माना जाता है।

  • -यह फायदेमंद भी है क्योंकि यह केवल एक बार उपयोग करने की अवधि के दौरान ही अपना प्रभाव दिखाने में सक्षम है।

  • नियमित रूप से एलोवेरा जूस पीने से शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है।

  • एलोवेरा जूस के इस्तेमाल से स्किन ग्लो करती है। नियमित रूप से त्वचा का सेवन आपकी त्वचा को युवा और चमकदार बनाता है।

  • बस इसे रोज पीने या बालों में लगाने से रूसी गायब हो जाती है और बालों की बनावट भी अच्छी हो जाती है।

  • एलोवेरा में बैक्टीरिया और फंगस से लड़ने की अद्भुत क्षमता होती है। यह रूसी को दूर करने में बहुत उपयोगी है।

  • अपने एंटी-फंगल गुणों के कारण, यह त्वचा पर फंगल संक्रमण को जल्दी से ठीक करने में भी मदद करता है।

  • एलोवेरा का कोई अतिरिक्त प्रभाव नहीं है। शरीर में रक्त कोशिकाओं की संख्या को पूरा करके, रक्त की कमी को पूरा किया जाता है।
इसे भी पढ़ें - गिलोय के फायदे | Benefit of Giloy
  • नियमित उपयोग से इससे लंबे समय तक स्वस्थ रहा जा सकता है। आप बड़ी सुविधा के साथ स्वास्थ्य प्राप्त कर सकते हैं।

  • वजन कम करना आजकल बहुत से लोगों के लिए सरल और आसान काम नहीं है। लेकिन एलोवेरा जूस के नियमित उपयोग से वजन बहुत आसानी से कम हो जाता है।

  • आप इसे घर का फेस बनाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • एलोवेरा के रस में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर सिर में लगाने से सिर दर्द में आराम मिलता है।

  • बहुत कम लोग जानते हैं कि एलोवेरा जूस पीने से पीलिया में भी मदद मिलती है।

  • गर्भावस्था के दौरान पेट पर खिंचाव के निशान हटाने में एलोवेरा बहुत फायदेमंद है।
इसे भी पढ़ें - Ayurvedic 6 benefits of Tulsi -तुलसी   से होने वाले 6 आयुर्वेदिक फायदे। 
  • एलोवेरा के गूदे से त्वचा की मालिश करें। इसमें मौजूद एंजाइम पुरानी त्वचा को हटाते हैं और नई त्वचा को नम रखते हैं।

  • आजकल के दौर में कम उम्र के बच्चों को चश्मा लग जाता है। ऐसी  स्थिति में आंवले और जामुन के साथ एलोवेरा का उपयोग करने से आँखों की सुरक्षा भी होती है और बालों को मजबूती भी मिलती है।

  • एलोवेरा के जैल शेविंग के बाद एंटीसेप्टिक की तरह काम करते हैं अगर शेविंग के बाद चेहरा कट जाता है या चिढ़ जाता है।

  • एलोवेरा में सूर्य की पराबैंगनी किरणों से रक्षा करने की क्षमता होती है। इस मामले में, यह एक सनस्क्रीन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

  •  इसके एंटी-ऑक्सीडेंट नमी को बनाए रखने में मदद करते हैं।

  • इसका उपयोग मॉइस्चराइज़र के निर्माण में किया जाता है, क्योंकि यह किसी भी प्रकार की त्वचा पर एकदम सही है।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं और ऐसी ही स्वास्थ्य से संबंधित जानकारियों के लिए हमारी वेबसाइट पर बने रहें। तथा अपने प्रिय जनों के साथ ऐसी स्वास्थ्यवर्धक जानकारियों को शेयर करना ना भूले।

Previous
Next Post »

1 comments:

Click here for comments
hrsd
admin
September 17, 2020 at 10:40 AM ×

👌

Congrats bro hrsd you got PERTAMAX...! hehehehe...
Reply
avatar