Pista All Ayurvedic And Scientific Benefits | Health Care Tips in hindi | पिस्ता के आयुर्वेदिक और साइंटिफिक फायदे ।

पिस्ता |Pistachio


सूखे हुए मेवों (Dry Fruit Pista) में पिस्ता बहुत ही जाना माना मेवा है । इससे हमारे शरीर को बहुत फायदे होते हैं।काफी दिनों से बीमार चल रहे शरीर में कमजोरी आ जाती है उसमें पिस्ते का उपयोग बहुत ही लाभकारी साबित होता है।मर्दों के यौन संबंधी परेशानियों में भी पिस्ता बहुत फायदा पहुंचाता है। पिस्ता के बहुत लाभकारी फायदे होते हैं। जो लोग पिस्ता का बहुत ज्यादा उपयोग करते हैं। शायद उनको भी पिस्ता के पूर्ण लाभ अभी तक नहीं पता है कि यह कितना लाभकारी है।तो चलिए जानते हैं कि पिस्ता के क्या-क्या लाभ और नुकसान होते हैं

पिस्ता के लाभ और नुकसान जानने से पहले हम यह जानते हैं कि पिस्ता है क्या :-

पिस्ता पेड़ पर पाया जाता है इसका पेड़ लगभग 10 मीटर ऊंचाई वाला होता है एक आम के पेड़ की तरह इसका पौधा भी वैसा ही दिखता है। पिस्ता के पत्तों में एक की कीट कोष बनता है यानी कीड़ों का घर बनता है। यह एक तरफ से गुलाबी और एक तरफ से पीला सफेद रंग का होता है। किस फल की लंबाई 10 से 20 मिलीमीटर होती है और इसका व्यास 6 से 12 मिली मीटर का होता है। पिस्ता का फल छिलका हल्का पीले रंग का होता है।



पिस्ते को छीलकर उपयोग में लाया जाता है। इसको गिरी भी कहते हैं। गिरि पर हमें लाल रंग का महीन छिलका मिलता है। आयुर्वेद के अध्ययन से हमें पता चलता है की पिस्ता कफ पित्त वर्धक वात दोष से हमें राहत दिलाने वाला होता है तथा यह हमें ताकत भी प्रदान करता है। पिस्ता के पौधे पर फल की शुरुआत जनवरी माह से जून के महीने के मध्य में आती है।

ज्यादातर लोग पिस्ता का उपयोग व्यंजनों में आहार के तौर पर करते हैं। या फिर वह लोग करते हैं जो लोग डाइट पर होते हैं। पिस्ता में कार्बोहाइड्रेट फाइबर तथा अमीनो एसिड तथा फैट पाया जाता है। जो ना सिर्फ हमारे सिर के दर्द तथा मुंह की दुर्गंध और दस्त तथा खुजली में बहुत लाभदायक होता है और यह हमें कमजोरी से भी बाहर निकालने में मदद करता
है तथा इससे हमारी बुद्धि भी तेज होती है। इसके फल का उपयोग मेवे की तरह पौष्टिक पकवान बनाने में तथा आयुर्वेद में इसे औषधि के रूप में उपयोग किया जाता है। यह सब पिस्ता के अनमोल फायदे हैं।

वनस्पति में पिस्ता का नाम - Pistacia vera Linn. (पिस्टेशिया वेरा) नाम है और यह Anacardiaceae (ऐनाकार्डिऐसी) प्रजाति का है। पिस्ता को दुनिया भर में कई नामों से जाना जाता है



इससे हमारे खान-पान का स्वाद ही नहीं बढ़ता बल्कि यह हमें कई बीमारियों से भी बचाता है। चलिए इनके बारे में जानते हैं।

सिर के दर्द में पिस्ता से फायदे :-

आजकल की भागदौड़ वाली तनावपूर्ण जीवनशैली में कई प्रकार के सिर दर्द एक आम बात हो गई है। दिनभर की भागदौड़ के कारण या खाने पीने में कई तरह के बदलावों के कारण थकान और सिर दर्द की परेशानियां होना एक आम बात हो गया है।आजकल जो लोग ऑफिसों में या घरों पर कंप्यूटर पर काम करते हैं उनको सिर दर्द ज्यादातर होता है। पिस्ता एक दर्द निवारक है यह हमारे सिर दर्द को कम करने के काम भी आता है। पिस्ते के तेल को सर पर लगाने या फिर उसकी मालिश करने तथा सूंघने से हमारे सिर का दर्द दूर हो जाता है और हमको इसमें राहत मिलती है।

सिर में अगर जुएं हो जाएं और वह नहीं जा रहे हो तो तो पिस्ते के इसमें कई फायदे :-

तनावपूर्ण जीवनशैली में लोगों के बाल बहुत कम उम्र में झड़ने लगते हैं या फिर वह बेजान हो जाते हैं और इसको ठीक करने के लिए उपाय ढूंढते हैं।तो आपको हम बता दें कि पिस्ता बालों को मजबूत करता है और यह बालों से जुएं भी निकालने में हमारी मदद करता है।

पिस्ता के पेड़ की छाल से काढ़ा बनाकर उससे सिर को धोएं तो इससे सिर के बाल भी मजबूत होते हैं और जू से भी हमको छुटकारा मिल जाता है।

पिस्ता के बवासीर में फायदे :-

बवासीर को इंग्लिश भाषा में पाइल्स भी कहा जाता है यहां एक दर्द  दायक बीमारी है । रोग गंभीर अवस्था में हो जाने पर घाव से  रक्त निकलने लगता है। पीड़ित को हर बार मल त्याग करने बहुत ज्यादा दर्द से गुजरना पड़ता है। इस दर्द से राहत पाने के लिए पिस्ता का इस तरह उपयोग करना चाहिए-

पिस्ता के वृक्ष की छाल को पीस कर पाइल्स वाली जगह पर लगाना चाहिए। ऐसा करने से दर्द नहीं राहत महसूस होगी।

पिस्ता के दस्त में फायदे:-

जिन लोगों को बार-बार दस्त होते हैं वह लोग इस ता का प्रयोग जरूर करें । पिस्ता के वृक्ष की छाल को काढ़ा के रूप में उपयोग करने से दस्त पर रोक लगती है।

पिस्ता के शीतपित्त मैं फायदे:-

शीतपित्त से शायद आप परिचित नहीं होंगे लेकिन इस बीमारी को अच्छी तरीके से जानते होंगे। उसको आम भाषा में कितनी रोग या पित्त उछलना भी कहते हैं।इस बीमारी में हमारी त्वचा पर लाल लाल रंग के दाने आने लगते हैं जिसमें अत्याधिक खुजली होती है। इसमें पिस्ता के बीजों का तेल पित्त के दानों पर लगाने से लाभ मिलता है।

पिस्ता के कमजोरी मैं फायदे :- 

पिस्ता को खाने के रूप में उपयोग करने से आपके शरीर की कमजोरी में बहुत लाभदायक असर  होगा इससे शरीर और मानसिक दुर्बलता बहुत कम होती है। इसका प्रयोग हमें पिस्ता के बीजों को भूलने के बाद करना चाहिए।

कभी-कभी किसी दवा के साइड इफेक्ट के कारण या फिर आजकल के बढ़ते प्रदूषण के कारण हमारे शरीर में खुजली जैसी परेशानियों हो जाती हैं इससे बचने के लिए पिस्ता के पेड़ की छाल का काढ़ा बनाकर इसे खुजली वाली जगह पर अच्छी तरह से मलमल कर धोने से आपको खुजली में बहुत आराम मिलेगा और साइड इफेक्ट में भी राहत मिलेगी।


याद रखने की क्षमता को पिस्ता किस तरीके से बढ़ाता है:- 

हमारी याददाश्त कम हो जाने से हमारे जीवन पर इसका बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। उसमें चाहे वह बच्चा हो या बुरा हो किसी को भी यह परेशानी हो सकती है। बच्चों में अगर स्मार्ट रखने की क्षमता कम हो जाती है तो उसका प्रभाव उनकी पढ़ाई-लिखाई पर पड़ता है। इसमें पिस्ता बहुत लाभदायक है।

पिस्ता और बादाम तथा पके हुए नारियल की गिरी तथा शक्कर और मिश्री घी को एक समान मात्रा में मिलाकर इसका उपयोग रोजाना 4 से 6 ग्राम मात्रा में रोजाना दूध के साथ सेवन करने से कई लाभ होते हैं।

दिल को स्वस्थ रखने के लिए पिस्ता के फायदे :-

पिता खाने से हमारे दिल के लिए कई लाभ पूर्ण फायदे होते हैं क्योंकि अध्ययन के अनुसार यह पता चला है कि बुरे कोलेस्ट्रॉल को पिस्ता कम करने में बहुत असर कारी साबित होता है जिससे दिल के रोग होने की संभावना बहुत हद तक कम हो जाती है।

आंतों को स्वस्थ बनाने के लिए पिस्ता के फायदे:- 

पिस्ता का सेवन हमारी आंतों के लिए बहुत फायदेमंद होता है क्योंकि पिस्ते में कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारी आंतों को मजबूत बनाने में काफी मददगार साबित होते हैं। इसका का उपयोग करने से आंतों के  श्लेष्मा झिल्ली में हुई उत्पन्न सूजन ठीक हो जाती है।

कैंसर में पिस्ता के असरकारी फायदे :-

उसका का उपयोग कैंसर जैसी भयानक बीमारी के रोकथाम के लिए बहुत सहायक माना जाता है एक अध्ययन से यह पता चला है कि पिस्ता में कैंसर रोधी तत्व पाए जाते हैं जो कि कैंसर को रोकने में हमारी बहुत मदद करते हैं।

पिस्ता हमारे बालों को किस प्रकार फायदा पहुंचाता है :-

पिस्ता का तेल बालों पर लगाने से बहुत फायदे होते हैं क्योंकि इसमें पाए जाने वाले विटामिन हमारे बालों को बहुत मजबूत करता है पिस्ता में गुण पाया जाता है जो कि हमारे सर की रूखे पन  को दूर करता है और बालों को मजबूत बनाता है और बालों को झड़ने और टूटने से रोकता है।

हमारे वजन को घटाने में पिस्ता किस प्रकार फायदे करता है:- 

हमारे वजन को घटाने में पिस्ता का उपयोग एक अच्छा माना जाता है क्योंकि इसमें पाए जाने वाले तत्व हमें जल्दी जल्दी भूख लगने की क्रिया को नियंत्रित करते हैं। जिससे हमें बार-बार भूख नहीं लगती है।

पिस्ता का उपयोग हिस्सा :-

हमारे आयुर्वेद के इतिहास में पिस्ता का उपयोग कई रूपों में किया जाता है इसके बीज तथा छाल और पत्ते का प्रयोग औषधि के रूप में किया जाता है।

पिस्ता का सही तरीके से उपयोग :-

पिस्ता का सही तरीके से उपयोग करने के लिए आप एक आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह ले सकते हैं और हमारे इस लेख में इसके कई उपयोग भी बताए गए हैं आप उनका भी प्रयोग कर सकते हैं। पिस्ता का उपयोग करने से पहले आप चिकित्सक से सलाह जरूर लें।

ज्यादातर पिस्ता कहां पाया जाता है: - 

पिस्ता के पेड़ ज्यादातर अफगानिस्तान ईरान और मध्य एशिया में पाए जाते हैं।
Previous
Next Post »